करंट अफेयर्स 18 जनवरी 2017

भारत आधिकारिक रूप से सीईआरएन का एसोसिएट सदस्य बना

  • भारत आधिकारिक रूप से यूरोपियन ऑर्गनाइज़ेशन फॉर न्यूक्लियर रिसर्च (सीईआरएन) का एसोसिएट सदस्य बन गया है।
  • यह संस्था दुनिया की सबसे बड़ी न्यूक्लियर एंड पार्टिकल फिज़िक्स प्रयोगशाला समझी जाती है
  • भारत को सदस्यता के लिए सालाना करीब 78 करोड़ खर्च करने होंगे।

मणिपुर में करंग बना देश का पहला कैशलेस द्वीप

  • केंद्र ने डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत मणिपुर में करंग को देश का पहला कैशलेस द्वीप घोषित किया है।
  • करंग द्वीप देश के उत्तर-पूर्वी हिस्से में मौजूद ताज़े पानी की सबसे बड़ी झील लोकताक के मध्य में स्थित है
  • यह घोषणा 9-12 जनवरी के बीच कैशलेस लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए चलाए गए अभियान के बाद की गई है।

YES बैंक ने बचत खाते की ब्याज दर 6% की

  • YES बैंक ने बचत खाते की ब्याज दर 6% की, भारतीय रिजर्व बैंक ने बचत खातों में ब्याज दरों को नियंत्रण मुक्त किया 
  • किसी बैंक ने अभी बचत खाते पर ब्याज दर बढ़ाने का फ़ैसला नहीं लिया है, 
  • अगर जल्दी ही मुख्य बैंकों ने बचत खाते पर ब्याज दर बढ़ाने का फ़ैसला नहीं किया तो उनके पास से कारपोरेट सैलेरी के एकाऊँट तो जाने की संभावना ज्यादा है

समावेशी विकास सूचकांक में भारत को मिला 60वां स्थान

  • समावेशी विकास सूचकांक में भारत को 60वें स्थान पर रखा गया है।
  • यह सूचकांक 12 संकेतकों पर आधारित है। इसमें 79 विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में लिथुआनिया पहले स्थान पर है।
  • अजरबाइजान व हंगरी दूसरे व तीसरे स्थान पर आए हैं।
  • मंच की समावेशी वृद्धि एवं विकास रिपोर्ट 2017 सोमवार को जारी की गई।

सक्षम-2017 में ऊर्जा-ईंधन के लिए लोगों को करेंगे जागरूक

  • पेट्रोलियमसंरक्षण अनुसंधान संगठन (पीसीआरए ) और पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तत्वावधान में एक माह तक चलने वाले सक्षम-2017 का शुभारंभ हुआ।
  • सक्षम-2017 (संरक्षण क्षमता महोत्सव) का उद्देश्य ऊर्जा के किफायती उपकरणों के उपयोग एवं स्वच्छ ईंधनों की तरफ रुख करने के साथ-साथ पेट्रोलियम उत्पादकों का बेहतर इस्तेमाल संरक्षण की दिशा में आम लोगों में जागरूकता बढ़ाना है
  • वाणिज्यिक वाहनों के चालकों एवं गृहिणियों, रसोइयों के लिए ईधन बचाने से जुड़े सरल उपायों को अंगीकार करने से संबंधित कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा।
  • इसका उद्देश्य ईधन सरंक्षण के लिए विभिन्न उपायों के बारे में शिक्षित करना है। 

0 comments:

Post a Comment