करंट अफेयर्स 27 मार्च 2017

‘मेक इन इंडिया’ पर ह्यूस्टन में सम्मेलन

  • एशिया सोसायटी टेक्सास सेंटर द्वारा आयोजित ह्यूस्टन इंडिया कान्फ्रेंस कल यहां शुरू हुई। यह दो दिवसीय कार्यक्रम भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ‘मेक इन इंडिया’ पर केंद्रित है।
  • ह्यूस्टन में भारत के महावाणिज्य दूत डा अनुपम रे ने टेक्सास में भारतीय-अमेरिकी समुदाय का जिक्र करते हुए कहा कि इसने दोनों देशों के बीच समझ बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। भारत-अमेरिका रिश्ते 21वीं सदी की महत्वपूर्ण भागीदारी होगी।
  • कार्यक्रम को बोस्टन विश्वविद्यालय में सह प्रोफेसर मंजरी चटर्जी मिलर, पूर्व सह मंत्री निशा बिस्वाल, विदेश मंत्रालय में संयुक्त सचिव नागराज नायडू के अलावा ध्रुव जयशंकर, एस सी गर्ग व कलिकेश सिंह देव भी शामिल थे। 
  • कार्यक्रम में भारत व मेक इन इंडिया पर गंभीर चर्चा हुई।

कर्नाटक बैंक (Karnataka Bank) ने लॉन्च किया नया कार्ड उत्पाद

  • कर्नाटक बैंक (Karnataka Bank) ने मनीप्लांट रुपेय इटंरनेशनल प्लेटिनम डेबिट कार्ड लॉन्च किया है।
  • इसका इस्तेमाल घरेलु और विश्व स्तर पर किया जा सकता है। इस कार्ड पर नकद निकासी सीमा प्रति दिन 75,000 रुपये और खरीदारी की सीमा प्रति दिन 2 लाख रुपये की है।
  • बीएसई में शुक्रवार को कर्नाटक बैंक का शेयर 0.70 रुपये या 0.51% की मामूली बढ़त के साथ 138.85 रुपये पर बंद हुआ। इसके पिछले 52 हफ्तों का शिखर 143.35 रुपये और निचला स्तर 80.18 रुपये रहा है।

नौसेना ने सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल का सफल प्रक्षेपण किया

  • नौसेना ने सतह से हवा में मार करने वाली बराक मिसाइल प्रणाली का अपने विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य से पहला सफल परीक्षण किया है। 
  • नौसेना के एक अधिकारी ने बताया कि अरब सागर में किए गए परीक्षण में मिसाइल से कम ऊंचाई पर उच्च गति से उड़ान भर रही एक वस्तु को निशाना बनाया गया।पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ वाइस एडमिरल गिरीश लुथरा के ऑपरेशन रेडीनेस इंसपेक्शन के तहत 21 से 23 मार्च के बीच यह लक्ष्य भेदन किया गया। 
  • अधिकारी ने बताया कि मिसाइल ने हवा में रोकने की काबिलियत और सुरक्षा क्षमताओं में बढोत्तरी के मामले में महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है।

बीकानेर की तनुश्री पारीक बनी देश की पहली महिला बीएसएफ अधिकारी

  • देश की महिलाएं चुनौती वाले क्षेत्रों में भी बढ़चढ़ कर न केवल हिस्सा ले रही हैं, बल्कि अपने साहस से नितनई शौर्यगाथाएं भी लिख रही हैं.
  • वैसे तो सुरक्षा के लगभग हर क्षेत्र में महिलाएं अपनी पहचान कायम कर चुकी हैं, मगर सीमा सुरक्षा बल यानी बीएसएफ अभीतक इनसे अछूता था.
  • राजस्थान की तनुश्री ने बीएसएफ में असिस्टेंट कमांडेंट बनकर इस कमी को भी पूरा कर दिया.
  • राजस्थान की तनुश्री पारीक देश की पहली बीएसएफ महिला अधिकारी बन गई हैं. बीएसएफ अकादमी में आयोजित दीक्षांत समारोह के बाद वह एक अधिकारी बन गईं.
  • उन्होंने दीक्षांत परेड का नेतृत्व भी किया. उन्हें इस मौके पर सम्मानित किया गया.
  • केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने तनुश्री के अधिकारी बनने पर कहा, "इस बात की खुशी है कि बीएसएफ को पहली फील्ड ऑफिसर मिली है. उम्मीद करता हूं कि और भी महिला अधिकारी आ रही हैं, जो सीमाओं की सुरक्षा करेंगी. सेना और अर्धसैनिक बलों में महिला अधिकारी भी अपनी जिम्मेदारी का बेहतर तरीके से निर्वहन कर रही हैं."
  • तनुश्री ने टेकनपुर स्थित सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) अकादमी में आयोजित पासिंग आउट परेड में देश की पहली महिला अधिकारी (असिस्टेंट कमांडेंट) के रूप में हिस्सा लिया. उन्होंने बीएसएफ अकादमी में अधिकारियों के 40वें बैच में बतौर सहायक कमांटेंड 52 हफ्तों का प्रशिक्षण लिया था.

0 comments:

Post a Comment